*** इंसान कहलाता है।***

क्या ये जानवर भी अब इंसान कहलाता है? मासूम पर दिखाकर ज़ोर,  खुद को बलवान बताता है। दरिंदगी का दिखाकर नाच, धर्म और ज़ात की आड़ में छुप जाता है। जाने कितनी आसिफ़ा के सामने हिन्दू, और निर्भया के सामने मुसलमान बन जाता है। धर्म का ये पाठ, वो आकर मुझे भी बताएं, क़ुरान के […]

****बरखुरदार! थोड़ी सी ही तो है****

बाहर कड़ाके की सर्दी पड़ रही थी, समुद्र तल से 6000 फ़ीट ऊपर, -16° C तापमान और लगभग 5 फुट बर्फ की सतह दूर दूर तक फैली थी। रात के समय जब  चांदनी उस बर्फ की चादर पर अपनी रौशनी बिखेरती तो यूँ लगता था मानो सफ़ेद बदलो का अथाह समुद्र सामने हो, उसके ऊपर […]